१८ जनवरी, रविवार, २००९ को राष्ट्रभाषा हिन्दी प्रचार परिषद, सिंधुदुर्ग, महाराष्ट्र (अखिल भारातीय हिन्दी प्रचार सभा) की ओर से कैलाशवासी यशवंत राव चौहान सभा गृह, जिल्ला परिषद, नांदेड़ में 'राज्यस्तरीय हिन्दी प्रचार सम्मलेन -२००९" का आयोजन किया गया था. इस अवसर पर एस.बी.ओ.ए. पब्लिक स्कूल ,औरंगाबाद की हिन्दी शिक्षिका श्रीमती सुनीता प्रेम यादव को कैलाशवासी द्रोपदी नारायण तारी की स्मृति में 'राज्यस्तरीय भाषा भूषण पुरस्कार' (२००८ के लिए) से सम्मानित किया गया. अध्यक्ष श्री प्रोफेसर जोगेंद्र सिंह विसेन ( हिन्दी विभाग , नाथोत्तर दयानंद कला महाविद्यालय ),उद्घाटक श्री वसंत राव बलवंत राव चौहान (पु.आमदार ),मुख्य अतिथि श्री कैलाश जाधव (अध्यक्ष केन्द्रीय प्रचार समिति ),संभाजी काम्बले (मुंबई हिन्दी विद्यापीठ ,संपर्क प्रमुख ) की उपस्थिति में यह समारोह सम्पन्न हुआ .विद्यालय की ओर से मुख्याध्यापिका श्रीमती सुरेखा माने , अर्चना फडके व अन्य शुभेच्छुगण उत्तरोत्तर प्रगति की कामना करते हुए बधाई दी. 

साहित्य शिल्पी परिवार की ओर से उन्हे हार्दिक शुभकामनायें।

9 comments:

  1. suneeta ji ko mere taraf se bhasha bhushan puraskar ke liye dhero badhai ..



    arsh

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुनीता जी को हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  3. पुरस्कार आपको बेहतर रचना की प्रेरणा दे।
    बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुनीता यादव जी को
    पुरस्‍कार प्राप्ति के लिए
    महामंगलकामनायें
    इस गुजारिश के साथ
    अपनी रचनाओं से
    इसी परदे पर अवश्‍य
    रूबरू करवायें।

    उत्तर देंहटाएं
  5. सुनीता जी हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुनीता जी को बहुत-बहुत बधाई...

    साहित्य शिल्पी से निवेदन है कि वो सुनीता जी की रचनाओं को प्रस्तुत करे।

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

पुस्तकालय

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...

आइये कारवां बनायें...

साहित्य शिल्पी, हिन्दी और साहित्य की सेवा का मंच, एक ऐसा अभियान.. जो न केवल स्थापित एवं नवीन रचनाकारों के बीच एक सेतु का कार्य करेगा अपितु अंतर्जाल पर हिन्दी के प्रयोग और प्रोत्साहन का एक अभिनव सोपान भी है, अपने सुधी पाठको के समक्ष कविता, कहानी, लघुकथा, नाटक, व्यंग्य, कार्टून, समालोचना तथा सामयिक विषयो पर परिचर्चाओं के साथ साहित्य शिल्पी समूह आपके समक्ष उपस्थित है। यदि राष्ट्रभाषा हिदी की प्रगति के लिए समर्पित इस अभियान में आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर एवं कुछ रचनायें हमें निम्नलिखित ई-मेल पते पर प्रेषित करें।
sahityashilpi@gmail.com
आइये कारवां बनायें...

Followers

Google+ Followers

Get widget