दिवाली के उपलक्ष्य में विश्व्व ब्राह्मण फेडरेशन ऑफ कनाडा द्वारा १४ नवम्बर २०१० को एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया| जिसमें अपनी भाषा, संस्कृति और परम्पराओं को सहेजने और अगली पीढ़ी तक पहुँचाने को लेकर विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई| समुदाय और सामाजिक सरोकारों से ओत-प्रोत, भाषा, संस्कृति और परम्पराओं के प्रचार -प्रसार में जो आप्रवासी भारतीय स्तम्भ की तरह संलग्न हैं उनके बारे में भी चर्चा हुई|
एक खूबसूरत सांस्कृतिक संध्या में उत्तरी अमेरिका की त्रैमासिक पत्रिका ''हिन्दी चेतना'' के मुख्य संपादक श्याम त्रिपाठी को उनकी हिंदी सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया | 'हिन्दी चेतना' पिछले तेरह वर्षों से मुद्रित हो रही है और उत्तरी अमेरिका की प्रमुख पत्रिका मानी जाती है | अतिथिगण ने 'हिन्दी चेतना' के महामना मदन मोहन मालवीय विशेषांक का विमोचन भी किया |

4 comments:

  1. त्रिपाठी जी की पूरी टीम को हार्दिक बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  2. Adarneey Tripathi ji k meri hardik Badhayi v shubhkamanyein. Canada se nikalne wali yeh Magazine sampadak mandal ke parishram aur nishtha ka prateek hai
    Devi Nangrani

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

पुस्तकालय

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...

आइये कारवां बनायें...

साहित्य शिल्पी, हिन्दी और साहित्य की सेवा का मंच, एक ऐसा अभियान.. जो न केवल स्थापित एवं नवीन रचनाकारों के बीच एक सेतु का कार्य करेगा अपितु अंतर्जाल पर हिन्दी के प्रयोग और प्रोत्साहन का एक अभिनव सोपान भी है, अपने सुधी पाठको के समक्ष कविता, कहानी, लघुकथा, नाटक, व्यंग्य, कार्टून, समालोचना तथा सामयिक विषयो पर परिचर्चाओं के साथ साहित्य शिल्पी समूह आपके समक्ष उपस्थित है। यदि राष्ट्रभाषा हिदी की प्रगति के लिए समर्पित इस अभियान में आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर एवं कुछ रचनायें हमें निम्नलिखित ई-मेल पते पर प्रेषित करें।
sahityashilpi@gmail.com
आइये कारवां बनायें...

Followers

Google+ Followers

Get widget