"अनंत की ओर" में जम्मू की झलक"



अमेरिका में रह रही अग्रिम पंक्ति की कवयित्री शशि पाधा के काव्य संग्रह "अनंत की ओर " का विमोचन बुधवार को "के एल सहगल" हाल में हुआ | कार्यक्रम में जम्मू यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो वरुण साहनी मुख्य अतिथि थे |युवा हिंदी लेखक संघ के अध्यक्ष श्री अशोक कुमार ने इस कार्यक्रम की अध्यक्षता की |

ध्यानयोग्य बात यह है कि यह शशि पाधा का तीसरा संग्रह है | इससे पहले इनके दो कविता संग्रह "मानस मंथन " एवं "पहली किरण" प्रकाशित हो चुके हैं | इस संग्रह में प्रकृति एवं प्रेम का संवेदनशील संगम है जिसमे हमें कवयित्री के अंतर्संसार के दर्शन हुए हैं | मुख्यत: गीतों की रचना करने वाली कवयित्री ने इस संग्रह के द्वारा दोहों तथा नवगीतो की दुनिया में भी प्रवेश किया है | शशि पाधा ने अमेरिका के नार्थ केरोलिना यूनिवर्सिटी एट चैपल हिल में हिंदी भाषा का अध्यापन कार्य किया | वर्ष २००७ में इन्होंने न्यूयार्क में आयोजित ८वें विश्व हिंदी सम्मलेन में भाग लिया | शशि जी अंतर्राष्ट्रीय विश्व हिंदी समिति तथा विश्व हिंदी न्यास संस्थाओं के सांस्कृतिक कार्यक्रमों से जुड़ी हुई हैं |



इस समारोह में कुलपति प्रो वरुण साहनी ने कहा कि अमेरिका में रहते हुए शशि पाधा ने हिंदी साहित्य की यात्रा को आगे बढ़ा कर अत्यंत सराहनीय कार्य किया है तथा उनकी पुस्तक में देश प्रेम और परदेस में रहने पीड़ा की झलक मिलती है | शशि ने संक्षेप में इस पुस्तक से जुड़े अपने अनुभव सब के साथ सांझा किये और संग्रह में छपी कुछ रचनायो का पाठ किया | उन्हों ने प्रकाशन में सहयोग देने वाले मानवी प्रकाशन के श्री इंदु भूषण का आभार व्यक्त्त करते हुए सभागार में उपस्थित सभी साहित्यकारों का धन्यवाद किया |

कार्यक्रम के अंत में संगीत का कार्यक्रम हुआ जिसमें जम्मू के जाने माने गायक श्री शाम साजन ने उनकी दो रचनायो को संगीत बद्ध कर पेश किया तथा सुश्री प्रतिमा शर्मा ने भी एक सुन्दर गीत की प्रस्तुति की | इस कार्यक्रम में जम्मू विश्व विद्यालय के शिक्षक, डोगरी तथा हिंदी के, साहित्यकार तथा रेडियो/ दूर दर्शन से जुड़े गणमान्य लोग उपस्थित थे |

स्वागत भाषण "युहिले" के प्रधान श्री शेख मोहमाद कल्याण ने दिया और आमंत्रित मेहमानों का धन्यवाद उपसचिव डा पवन कुमार ने किया|
------------------------------------------
शेख मोहम्मद कल्याण
प्रधान युवा हिंदी लेखक संघ

8 comments:

  1. शशि जी बधाई ! पुस्तक का इंतज़ार है |
    सुधा ओम ढींगरा

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपको ढेर सारी बधाइयाँ ...
    आपकी पुस्तक के विमोचन पर...शशि जी ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. शशिजी एक प्रतिभाशाली रचनाकार हैं |
    बहुत बधाई |

    अवनीश तिवारी

    उत्तर देंहटाएं
  4. aapko bahut bahut badhai.
    aap ki srijan yatra aese hi chalti rahe yahi prarthna hai
    saader
    rachana

    उत्तर देंहटाएं
  5. शशि जी मैं आपको काफी समय से पढ़ रही हूँ और आपकी रचनाएँ हमेशा दिल को छू जाती हैं आपकी इस पुस्तक विमोचन पर आपको हार्दिक बधाई .......
    सादर
    अमिता

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

पुस्तकालय

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...

आइये कारवां बनायें...

साहित्य शिल्पी, हिन्दी और साहित्य की सेवा का मंच, एक ऐसा अभियान.. जो न केवल स्थापित एवं नवीन रचनाकारों के बीच एक सेतु का कार्य करेगा अपितु अंतर्जाल पर हिन्दी के प्रयोग और प्रोत्साहन का एक अभिनव सोपान भी है, अपने सुधी पाठको के समक्ष कविता, कहानी, लघुकथा, नाटक, व्यंग्य, कार्टून, समालोचना तथा सामयिक विषयो पर परिचर्चाओं के साथ साहित्य शिल्पी समूह आपके समक्ष उपस्थित है। यदि राष्ट्रभाषा हिदी की प्रगति के लिए समर्पित इस अभियान में आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर एवं कुछ रचनायें हमें निम्नलिखित ई-मेल पते पर प्रेषित करें।
sahityashilpi@gmail.com
आइये कारवां बनायें...

Followers

Google+ Followers

Get widget