IMAGE1


 डॉ० राजीव जोशी रचनाकार परिचय:-



नाम- डॉ० राजीव जोशी
जन्म- १७ सितम्बर १९७७
माता- स्व० श्रीमती लक्ष्मी देवी
पिता- श्री खीमानन्द जोशी
ग्राम- भयेड़ी, पो०- क्वैराली, जनपद-बागेश्वर(उत्तराखंड)
शिक्षा- एम०एस०सी०(भौतिकी),एम०ए०(हिंदी, शिक्षा-शास्त्र)
बी०एड०,एल०एल-बी०,आइ०जी०डी०-बॉम्बे,पी-
एच०डी०(हिंदी), यू०जी०सी०नेट.
लेखन- हिमांशु जोशी: रूप एक रंग अनेक, विभिन्न राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं, समाचार पत्रों तथा ऑनलाइन जनरल्स(पत्रिकाओं) में कविताएं, लेख एवं शोध-पत्र प्रकाशित, कहानी लेखन.
शोध/आलेख- हिमांशु जोशी:कृतित्व के नए आयाम(हिमांशु जोशी के व्यक्तित्व एवं सम्पूर्ण कृतित्व तथा पत्रकारिता का शास्त्रीय अध्ययन), मध्य हिमालयी पहाड़ी की भाषिक संरचना, हिमांशु जोशी का बाल साहित्य, हिंदी वर्तनी की समस्याएं, देवसिंह पोखरिया का काव्य सौष्ठव, पत्रकारिता एवं हिमांशु जोशी, समकालीन कहानियों में व्यंग्य.
संप्रति- राजकीय इंटरकॉलेज हड़बाड़, जनपद-बागेश्वर, उत्तराखंड में भौंतिक विज्ञान प्रवक्ता पद पर कार्यरत.
ई-मेल rajeevbageshwar@gmail.com
फोन न०- ९६३९४७३४९१, ९४१२३१३७१७

सभी जगह वह रहबर दिखाई देता है
क्यों उसी के हाथ पत्थर दिखाई देता है ||1||

न था जिसे मतलब' कल दुनियांदारी से
वही यहाँ अब अक्सर दिखाई देता है ||2||

तुले थे ज़ान देने को कल दोस्ती में
उन्हीं के बीच अब खंज़र दिखाई देता है ||3||

यहाँ बनी जब से दौलत-ए-दीवार घर में
रिश्तों में तब से अंतर दिखाई देता है ||4||

जिसे देखे अपना बना लेता है 'राजीव'
उसकी आँखों में मंतर दिखाई देता है ||5||

3 comments:

  1. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 21-01-2016 को चर्चा मंच पर चर्चा - 2228 में दिया जाएगा
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  2. फेसबुक पर

    Chandrakant Pargir, Shweta Elwadhi Tiwari, Lal Baghel और 9 अन्य को यह पसंद है.
    टिप्पणियाँ
    Shivesh Shivakumar
    Shivesh Shivakumar प्रभावपूर्ण प्रस्तुति
    पसंद · जवाब दें · 22 जनवरी को 05:54 पूर्वाह्न बजे

    Rahul Bhardwaj
    401 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Shweta Elwadhi Tiwari
    14 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Chandrakant Pargir
    61 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Sandhya Shrivastava
    13 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Tej Ram Sharma
    93 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Rakesh Chandra Sharma
    43 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Lal Baghel
    116 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Sujash Sharma
    631 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Rakesh R. Singh
    184 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    Gunjan Priyadarshi
    4 आपसी मित्र
    मित्र
    मित्र
    नवीन कुमार तिवारी
    127 आपसी मित्र
    Sadhna Shukla

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

पुस्तकालय

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...

आइये कारवां बनायें...

साहित्य शिल्पी, हिन्दी और साहित्य की सेवा का मंच, एक ऐसा अभियान.. जो न केवल स्थापित एवं नवीन रचनाकारों के बीच एक सेतु का कार्य करेगा अपितु अंतर्जाल पर हिन्दी के प्रयोग और प्रोत्साहन का एक अभिनव सोपान भी है, अपने सुधी पाठको के समक्ष कविता, कहानी, लघुकथा, नाटक, व्यंग्य, कार्टून, समालोचना तथा सामयिक विषयो पर परिचर्चाओं के साथ साहित्य शिल्पी समूह आपके समक्ष उपस्थित है। यदि राष्ट्रभाषा हिदी की प्रगति के लिए समर्पित इस अभियान में आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर एवं कुछ रचनायें हमें निम्नलिखित ई-मेल पते पर प्रेषित करें।
sahityashilpi@gmail.com
आइये कारवां बनायें...

Followers

Google+ Followers

Get widget