IMAGE1


 मनोरंजन कुमार तिवारी रचनाकार परिचय:-



नाम:- मनोरंजन कुमार तिवारी जन्म तिथि:- 06/01/1980 जन्म स्थान:- भदवर, जिला- बक्सर, बिहार पिता का नाम:- श्री कामेश्वर नाथ तिवारी गाँव:- भद्वर, जिला- बक्सर, बिहार वर्तमान पत्ता:- C/o- कर्ण सिंह, गाँव- घिटोरनी, नजदीक "तालाब",नई दिल्ही-30 मोबाइल न.- 9899018149 Email ID- manoranjan.tk@gmail.com


कविताएं मर्म स्पर्शी होती है,
जीवन के हर रंग की आरुषि होती है,
भावुकता व विद्रोह की अभिव्यक्ति होती है,
समाज को सही दिशा दिखाने की एक कोशिश होती है,
शिल्प,सृजन व सौंदर्य से विभूषित,
कविताएं,
कुरूपता नहीं सह पाती,
विकृति व विरूपित मानसिकता नहीं सह पाती,
बिखर जाती है कविता,
कविताओं में तुकांत, विधान का ख़्याल रखना पड़ता है,
लोग पढ़ते है कविता,
गुनगुनाते भी है इसे,
भावों को समझ भावुक होते है,
मेरी कोशिशें अधूरी है शायद,
गढ़ने नहीं आती ऐसी कविता,
या शायद मैं कवि नहीं,
स्वयम् कविता हूँ,
जो लिखता हूँ वो,
उन कविताओं का भावार्थ होता है,
और इन सभी अर्थों को जोड़ कर देखो,
सबका मतलब सिर्फ एक है,
की मैं कविता क्यूं हूँ l

2 comments:

  1. We are urgently in need of kidney donors in Kokilaben Hospital India for the
    sum of $450,000,00 USD, Contact Dr.Donya Hockett via email for more details.
    Email: donyahocket45@gmail.com
    Phone NUmber:+91 8050781454
    Watsup:+91 8050781454

    उत्तर देंहटाएं
  2. हम $ 450,000,00 की राशि के लिए गुर्दा दाताओं के लिए देख रहे हैं, अब अधिक जानकारी के पर संपर्क ईमेल के माध्यम से। +91 8050781454
    ईमेल: donyahocket45@gmail.com



    हम कोकिलाबेन अस्पताल भारत में गुर्दे की दाताओं की तत्काल जरूरत हैं
    € 450,000,00 के योग, संपर्क Dr.Donya Hockett अधिक जानकारी के लिए ईमेल के माध्यम से।
    ईमेल: donyahocket45@gmail.com
    फोन नंबर: +91 8050781454
    Watsup: +91 8050781454

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

पुस्तकालय

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...

आइये कारवां बनायें...

साहित्य शिल्पी, हिन्दी और साहित्य की सेवा का मंच, एक ऐसा अभियान.. जो न केवल स्थापित एवं नवीन रचनाकारों के बीच एक सेतु का कार्य करेगा अपितु अंतर्जाल पर हिन्दी के प्रयोग और प्रोत्साहन का एक अभिनव सोपान भी है, अपने सुधी पाठको के समक्ष कविता, कहानी, लघुकथा, नाटक, व्यंग्य, कार्टून, समालोचना तथा सामयिक विषयो पर परिचर्चाओं के साथ साहित्य शिल्पी समूह आपके समक्ष उपस्थित है। यदि राष्ट्रभाषा हिदी की प्रगति के लिए समर्पित इस अभियान में आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर एवं कुछ रचनायें हमें निम्नलिखित ई-मेल पते पर प्रेषित करें।
sahityashilpi@gmail.com
आइये कारवां बनायें...

Followers

Google+ Followers

Get widget