HeaderLarge

नवीनतम रचनाएं

6/recent/ticker-posts

फ्लाइंग शूज [सप्ताह का कार्टून] - अभिषेक तिवारी

Photobucket


रचनाकार परिचय:-

अभिषेक तिवारी "कार्टूनिस्ट" ने चम्बल के एक स्वाभिमानी इलाके भिंड (मध्य प्रदेश्) में जन्म पाया। पिछले २३ सालों से कार्टूनिंग कर रहे हैं। ग्वालियर, इंदौर, लखनऊ के बाद पिछले एक दशक से जयपुर में राजस्थान पत्रिका से जुड़ कर आम आदमी के दुःख-दर्द को समझने की और उस पीड़ा को कार्टूनों के माध्यम से साँझा करने की कोशिश जारी है.....

एक टिप्पणी भेजें

6 टिप्पणियाँ

  1. वाह !
    अभिषेक जी

    चुनावी मौसम में चेहरे पर स्मित लाने वाला इससे अधिक सामयिक कोई और कार्टून हो ही नहीं सकता ..... शुभकामना

    जवाब देंहटाएं
  2. अब यह जूता पब्लिसिटी का माध्यम लगता है और यही लगता है कि
    खबरों में रहने और थोथी लोकप्रियता बटोरने के लिए जानबूझ कर जूता फैंका जाता है |
    भला इससे आसान तरीका और क्या हो सकता है - मशहूर होने के लिए |
    कार्टून में आपने उस कटु सत्य को उजागर किया है , जो कम से कम
    भारतीय पत्रकारिता पर तो न मिटने वाला धब्बा है |

    जवाब देंहटाएं
  3. क्या बढिया उडता हुआ जूता है....

    जवाब देंहटाएं
  4. वो तो ठीक है मगर जोडा नहीं मिलता न... एक पैर का क्या करेंगे :)

    जवाब देंहटाएं
  5. जूता
    या

    जूतायान
    (फ्लाइंग शूज)
    जूता अभियान
    जूता देता है अब

    भरपूर मुस्‍कान

    नेताओं की
    कठोर जान

    पिघलाता है जूता मान।

    जवाब देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

आइये कारवां बनायें...

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...