HeaderLarge

नवीनतम रचनाएं

6/recent/ticker-posts

पहले सीखो रुपये कमाना [बाल कविता] - प्रभुदयाल श्रीवास्तव

मम्मी मेरा ब्याह कराना,
छोटी सी एक दुल्हन लाना|
घर के सारे नियम कायदे,
उसे यथा शीघ्र समझाना|

मेरे नोट्स बनाना होंगे,
उसको यह स्पष्ट बताना|
बड़े प्यार से प्रति दिन मुझको,
उसे पड़ेगा दूध पिलाना|

उसे सिखाना होगा मम्मी,
जूतों में पालिश करवाना|
होम वर्क भी करना होगा,
उसको अच्छी तरह सिखाना|

नहीं चलेगा मम्मी उसका,
बात बात में टांग अड़ाना,
बदले में उसको दूंगा में,
एक फ्राक लाकर सालाना|

मम्मी बोली बड़े प्रेम से,
नहीं कठिन शादी करवाना|
पढ़ लिख कर पर मेरे बच्चू,
पहले सीखो रुपये कमाना|

टिप्पणी पोस्ट करें

4 टिप्पणियां

  1. मम्मी बोली बड़े प्रेम से,
    नहीं कठिन शादी करवाना|
    पढ़ लिख कर पर मेरे बच्चू,
    पहले सीखो रुपये कमाना|

    वाह वाह बहुत सुन्दर कविता

    जवाब देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

आइये कारवां बनायें...

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...