HeaderLarge

नवीनतम रचनाएं

6/recent/ticker-posts

सहसा [कविता] - डॉ महेन्द्र भटनागर

IMAGE1

 डा. महेंद्र भटनागर रचनाकार परिचय:-


डा. महेंद्रभटनागर
सर्जना-भवन, 110 बलवन्तनगर, गांधी रोड, ग्वालियर -- 474 002 [म. प्र.]

फ़ोन : 0751-4092908 / मो. 98 934 09793
E-Mail : drmahendra02@gmail.com
drmahendrabh@rediffmail.com


आज तुम्हारी आयी याद,
मन में गूँजा अनहद नाद!
बरसों बाद
बरसों बाद!
साथ तुम्हारा केवल सच था,
हाथ तुम्हारा सहज कवच था,
सब-कुछ पीछे छूट गया, पर
जीवित पल-पल का उन्माद!
आज तुम्हारी आयी याद!
बीत गए युग होते-होते,
रातों-रातों सपने बोते,
लेकिन उन मधु चल-चित्रें से
जीवन रहा सदा आबाद!
आज तुम्हारी आयी याद!



==================

टिप्पणी पोस्ट करें

5 टिप्पणियां

  1. भटनाकर जी बहुत ही सुन्दर रचना इसके लिए बधाई

    जवाब देंहटाएं
  2. you can read also to satus quote
    exm:- mahakal status, whatsapp sttaus

    जवाब देंहटाएं
  3. it is really a great and helpful piece of info. I am glad that you shared this helpful information with us. Please keep us
    Sattamatka guessing forum today

    जवाब देंहटाएं
  4. The post is quite informative as I could derive a lot on the topic by reading through it. At MyAssignmentHelpNow, We Offer Pocket-Friendly assignment writing services. Students trust our assignment help in Australia. To get genuineassignments within deadlines, Hire Us Today!


    Online Assignment Help

    जवाब देंहटाएं
  5. new fantasy cricket app Fantasy Power 11 is fantasy cricket best app-helps in knowing the best fantasy cricket tips, also a fantasy platform for fantasy cricket and win huge cash prizes.

    जवाब देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

आइये कारवां बनायें...

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...