HeaderLarge

नवीनतम रचनाएं

6/recent/ticker-posts

बस, एक बार! [कविता] - डॉ महेन्द्र भटनागर

IMAGE1

 डा. महेंद्र भटनागर रचनाकार परिचय:-


डा. महेंद्रभटनागर
सर्जना-भवन, 110 बलवन्तनगर, गांधी रोड, ग्वालियर -- 474 002 [म. प्र.]

फ़ोन : 0751-4092908 / मो. 98 934 09793
E-Mail : drmahendra02@gmail.com
drmahendrabh@rediffmail.com


स्नेह-तरलित दो नयन
मुझको देख लें-
बस,
एक बार!
दो
प्रणय-कम्पित हाथ
मुझको थाम लें-
बस,
एक बार!
सर्पिल भुजाएँ दो
मुझको बाँध लें-
बस,
एक बार!
दो
अग्निवाही होंठ
मुझको चूम लें-
बस,
एक बार!




==================

एक टिप्पणी भेजें

8 टिप्पणियाँ

  1. बहुत सुंदर लिंकों का सार्थक संयोजन। रचनाकार को मेरी हार्दिक शुभकामनाएँ।
    कृपया मुझे भी पढ़े व अच्छा लगे तो follow करे मेरा blog है
    Gym Status In Hindi and also Gym Status In English

    जवाब देंहटाएं
  2. it is really a great and helpful piece of info. I am glad that you shared this helpful information with us. Please keep us informed like this. Thank you for sharing.
    intercaste marriage problem solution

    जवाब देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

आइये कारवां बनायें...

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...