नोट:- प्रस्तुति को स्पष्ट देखने के लिये चित्र पर चटखा लगायें। 

13 comments:

  1. वाह बहुत ही सटीक चित्र हैं। कलाकार की सूक्ष्म दृष्टि की प्रशंसा की जानी चाहिए।

    उत्तर देंहटाएं
  2. कीर्तिश जी इस दौर के श्रेष्ठ कार्टूनिष्टो में एक है। सभी कार्टूनों मे आतंकवाद पर गहरे कटाक्ष हैं।

    ***राजीव रंजन प्रसाद

    उत्तर देंहटाएं
  3. तनेजा जी

    कीर्तिश तो

    जमे हुए हैं

    जमे ही रहेंगे

    सदा ऐसी

    है सदा

    पर वे तो

    पिघल गए

    होंगे भीतर
    तक।

    उत्तर देंहटाएं
  4. मीडिया को आपने जो आईना दिखाया वह बेहद पसंद आया। सभी कार्टून अच्छे हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  5. मीडिया भी एक किस्म का आतंक वैलाता है। गधे वाला कार्टून एकदम सही है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. पंकज सक्सेना16 जनवरी 2009 को 1:43 pm

    अंतुले और पाटिल साहब की अच्छी खबर ली है आपनें। मीडिया तो खैर।

    उत्तर देंहटाएं
  7. छहो आयाम अच्छी तरह दर्शाये गये हैं। प्रभावी कार्टून हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  8. सुंदर कार्टून जो एक संदेश भी दे रहे हैं.. मिडिया के लिए. पाकिस्तान के लिए और साथ ही राजनितिक गतिविधिओं पर भी... आभार

    उत्तर देंहटाएं
  9. wah ji wah .. cartoons bahut behtar hai ..
    aur sach kahun , media wala is the best ..

    aapko bahut badhai ..

    vijay
    www.poemsofvijay.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

पुस्तकालय

~~~ साहित्य शिल्पी का पुस्तकालय निरंतर समृद्ध हो रहा है। इन्हें आप हमारी साईट से सीधे डाउनलोड कर के पढ सकते हैं ~~~~~~~

डाउनलोड करने के लिए चित्र पर क्लिक करें...

आइये कारवां बनायें...

साहित्य शिल्पी, हिन्दी और साहित्य की सेवा का मंच, एक ऐसा अभियान.. जो न केवल स्थापित एवं नवीन रचनाकारों के बीच एक सेतु का कार्य करेगा अपितु अंतर्जाल पर हिन्दी के प्रयोग और प्रोत्साहन का एक अभिनव सोपान भी है, अपने सुधी पाठको के समक्ष कविता, कहानी, लघुकथा, नाटक, व्यंग्य, कार्टून, समालोचना तथा सामयिक विषयो पर परिचर्चाओं के साथ साहित्य शिल्पी समूह आपके समक्ष उपस्थित है। यदि राष्ट्रभाषा हिदी की प्रगति के लिए समर्पित इस अभियान में आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर एवं कुछ रचनायें हमें निम्नलिखित ई-मेल पते पर प्रेषित करें।
sahityashilpi@gmail.com
आइये कारवां बनायें...

Followers

Google+ Followers

Get widget